Friday, August 14, 2020

कैसे बने Mukesh Ambani इतने बड़े बिज़नेस जानिए कुश जरुरी जानकारी-

 Mukesh Ambani

मुकेश अंबानी एक भारतीय सफल बिजनेस हैं, जो रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आरआईएल) के चैयरमेन हैं और दुनिया के सबसे अमीर लोगों में से 5 वे स्थान पर आते है। इस ब्लॉग में हम आपको उनके जीवन, बचपन और उनके कार्यों के बारे में विस्तार में जानकारी देंगे।

मुकेश अंबानी भारत के सबसे अमीर व्यक्ति हैं और उनकी गणना दुनिया की सबसे शक्तिशाली हस्तियों में से की जाती है। उनकी खोज और सफलता इस तथ्य से प्राप्त की जा सकती है कि उनकी वर्तमान कंपनी का जिओ रिलायंस पूरी तरह से भारत के आर्थिक जीवन पर टिका हुआ है.

(ये भी पढ़ें: प्रभास (Prabhas) का अब तक का सफर, जीवनी, इतिहास, पुरस्कार और आने वाली फ़िल्में)

Mukesh Ambani जन्म, पढ़ाई और अब तक - पूरा नाम मुकेश धीरूभाई अंबानी (जन्म 19 अप्रैल 1957 को यमन में) जो के एक भारतीय व्यवसायी हैं और इंडिया टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार 23 July 2020 तक उनकी आमदन लगभग 65 अरब डॉलर हैं। वे रिलायंस इंडस्ट्रीज के अध्यक्ष के रूप में अपनी भूमिका निभा रहे है. रिलायंस इंडस्ट्रीज में उनकी कुल हिस्सेदारी 47.25 % है | कुछ दिन पहले ही जानी July 23 2020 को मुकेश अम्बानी की तुलना एशिया के सबसे अमीर और दुनिया के मुख्या बड़े 5 व्पारिओं के साथ की जाने लगी है. उनकी संपत्ति का मूल्य (फोर्ब्स के अनुसार) 65 अरब अमेरिकी डॉलर माना जाता है, जिससे वे भारत के सबसे अमीर व्यक्ति हैं। और तो और उनकी कंपनी रिलायंस जियो भारत की सबसे बड़ी टेलिकॉम कंपनी है।

शिक्षा, फेमली और करियर- मुकेश अंबानी, उनके भाई और आनंद जैन ने मुंबई के पेडर रोड स्थित हिल ग्रेंज हाई स्कूल में पढ़ाई की, जो बाद में आनंद जैन उनका करीबी सहयोगी बन गया। और बाद में  उन्होंने इंस्टिट्यूट ऑफ़ केमिकल टेक्नोलॉजी से केमिकल इंजीनियरिंग में बीई की डिग्री हासिल की |और इस के बाद हायर डिग्री के लिए  अंबानी ने स्टैनफोर्ड_विश्वविद्यालय में एमबीए के लिए दाखिला लिया | 1980 में अपने पिता को रिलायंस में जरूरत को पूरा करने लिए  उन्होंने डिग्री बीच में ही छोड़ दी | मुकेश अंबानी ने लगभग 27 साल उम्र में विवाह किया था और इनकी पत्नी का नाम नीता है, जो कि अब इनके साथ मिलकर इनका व्यापार संभालती हैं. इस तरह परिवार में कुल तीन बच्चे हैं, एक लड़की है जिन का नाम ईशा अंबानी और दो लड़के हैं. जिन का नाम आकाश अंबानी और अंनत अंबानी। 


कैसे होई करियर की शुरुआत- सन बात है जब 1980 में जब इंदिरा गाँधी सरकार ने पी.एफ.वाई. (पॉलिएस्टर फिलामेंट यार्न) की शुरआत की तब रिलायंस ने भी लाइसेंस के लिए अपनी दावेदारी रखी थी और टाटा, बिरला और 43 नामी कम्पनिओं लाइसेंस पाने में कामयाबी हासिल की। पी.एफ.वाई. (पॉलिएस्टर फिलामेंट यार्न) कारखाने के निर्माण के पिता लिए धीरुभाई अम्बानी ने मुकेश को एम.बी.ए. की पढ़ाई को छोड़ कर आना पड़ा था मुकेश अपनी पढ़ाई छोड़ भारत आ गए और कारखाने के निर्माण में जुट गए। और ऐसी के साथ मुकेश ने जामनगर (गुजरात) में लोकल लेवल पर विश्व की सबसे बड़ी पेट्रोलियम रिफायनरी को लांच किया। सन 2010 में इस रिफायनरी की क्षमता 660,000 बैरल प्रति दिन थी यानी 3 करोड़ 30 लाख टन प्रति वर्ष। इस तरह दिन भी दिन कामजाबी को मुकाम हासिल करते गए.

इस बारे भी हम सोशल मीडिया और रिपोर्ट्स में देख रहे है के किस तरह रिलायंस इंडस्ट्रीज फिर से रिलायंस जिओके माध्यम से दूरसंचार के क्षेत्र में अपने कदम रख रही है। जैसे की जून 2014 में रिलायंस के ए.जी.एम. के दौरान मुकेश ने अगले 3 साल में 4G सेवाएं जारी रखने का एलान भी किया था. 

 

 

 

 

Guru Search

Author & Editor

#

0 comments:

Post a Comment