Latest Posts

Sunday, August 16, 2020

Independence Day 2020: लाल किले में कोरोना वैक्सीन पर पीएम मोदी ने किस बात का किया खुलासा-

Guru Search


इस बार 74वें दिवस देश आजादी जानी 15 अगस्त स्वतंत्रता दिवस पर देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने लाल किले से देश को संबोधित किया। अपने भाषण में पीए मोदी ने आत्मबल को बढ़ावा देने पर जोर देते हुए कहा और कोरोना का जिक्र करते हुए कहा कि देश में कोरोना वैक्सीन की उपस्थ्ति पर तेजी से काम किया जा रहा है.

ये भी पढ़े- SideEffects while Using Hand Sanitizer

देखिये देश में कितनी तेजी से बढ़े कोरोना के मरीज- पीएम मोदी ने लाल किले के ग्राउंड में कोरोना वैक्सीन के बारे में कहा कि आज भारत देश में कोराना की खोज पुरे जोरों से चल रही है और एक नहीं, दो नहीं, तीन-तीन वैक्सीन्स इस समय टेस्टिंग मोड पर चल रही है. हमारे देश के विशेषज्ञ वैज्ञानिक अपनी जी जान लगा कर कोरोना की वेक्सीन खोजने में लगे होये हैं. जैसे ही वैज्ञानिकों की तरफ से कोई ग्रीन साइन मिलेगा। और तो और देश की तैयारी उस वैक्सीन्स की बड़े पैमाने पर Production की भी तैयारी की भी साथ के साथ की जा रही है. 


इस तरह तारीफ करते हुए पीएम मोदी ने अपने भाषण में कोरोना वॉरियर्स के बारे में कहा के कोरोना के इस असाधारण समय में सेवा परमो धर्म: की भावना के साथ जीवन की बगैर परवाह किए हमारे डॉक्टर्स, नर्सें, पैरामेडिकल स्टाफ, एंबुलेंस कर्मी, सफाई कर्मचारी, पुलिस कर्मी, कई लोग 24 घंटे लगातार काम में लगे  हुए है.

ये भी पढ़े- कोरोना की Vaccine मिली, ब्रिटेन में Oxford ने किया अविष्कार

उन्होंने कहा कि N-95 मास्क, PPE किट जैसी कॉमन मेडिकल चीजें पहले भारत में बहार जानी विदेशों से मंगाते थे। और अब ये सब हमलेकिन आज भारत अपनी जरूरतों को खुद पूरा भी कर रहा  है साथ ही साथ दूसरे देशों की मदद के लिए भी आगे भी बढ़ चढ़ कर उने इस तरह का जरुरी मेडिकल स्टफ अजात भी कर रहा है ये बात बुहत ही गर्व से भारत के पीएम मोदी ने भरी सभा में बोली।


Friday, August 14, 2020

कैसे बने Mukesh Ambani इतने बड़े बिज़नेस जानिए कुश जरुरी जानकारी-

Guru Search

 Mukesh Ambani

मुकेश अंबानी एक भारतीय सफल बिजनेस हैं, जो रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आरआईएल) के चैयरमेन हैं और दुनिया के सबसे अमीर लोगों में से 5 वे स्थान पर आते है। इस ब्लॉग में हम आपको उनके जीवन, बचपन और उनके कार्यों के बारे में विस्तार में जानकारी देंगे।

मुकेश अंबानी भारत के सबसे अमीर व्यक्ति हैं और उनकी गणना दुनिया की सबसे शक्तिशाली हस्तियों में से की जाती है। उनकी खोज और सफलता इस तथ्य से प्राप्त की जा सकती है कि उनकी वर्तमान कंपनी का जिओ रिलायंस पूरी तरह से भारत के आर्थिक जीवन पर टिका हुआ है.

(ये भी पढ़ें: प्रभास (Prabhas) का अब तक का सफर, जीवनी, इतिहास, पुरस्कार और आने वाली फ़िल्में)

Mukesh Ambani जन्म, पढ़ाई और अब तक - पूरा नाम मुकेश धीरूभाई अंबानी (जन्म 19 अप्रैल 1957 को यमन में) जो के एक भारतीय व्यवसायी हैं और इंडिया टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार 23 July 2020 तक उनकी आमदन लगभग 65 अरब डॉलर हैं। वे रिलायंस इंडस्ट्रीज के अध्यक्ष के रूप में अपनी भूमिका निभा रहे है. रिलायंस इंडस्ट्रीज में उनकी कुल हिस्सेदारी 47.25 % है | कुछ दिन पहले ही जानी July 23 2020 को मुकेश अम्बानी की तुलना एशिया के सबसे अमीर और दुनिया के मुख्या बड़े 5 व्पारिओं के साथ की जाने लगी है. उनकी संपत्ति का मूल्य (फोर्ब्स के अनुसार) 65 अरब अमेरिकी डॉलर माना जाता है, जिससे वे भारत के सबसे अमीर व्यक्ति हैं। और तो और उनकी कंपनी रिलायंस जियो भारत की सबसे बड़ी टेलिकॉम कंपनी है।

शिक्षा, फेमली और करियर- मुकेश अंबानी, उनके भाई और आनंद जैन ने मुंबई के पेडर रोड स्थित हिल ग्रेंज हाई स्कूल में पढ़ाई की, जो बाद में आनंद जैन उनका करीबी सहयोगी बन गया। और बाद में  उन्होंने इंस्टिट्यूट ऑफ़ केमिकल टेक्नोलॉजी से केमिकल इंजीनियरिंग में बीई की डिग्री हासिल की |और इस के बाद हायर डिग्री के लिए  अंबानी ने स्टैनफोर्ड_विश्वविद्यालय में एमबीए के लिए दाखिला लिया | 1980 में अपने पिता को रिलायंस में जरूरत को पूरा करने लिए  उन्होंने डिग्री बीच में ही छोड़ दी | मुकेश अंबानी ने लगभग 27 साल उम्र में विवाह किया था और इनकी पत्नी का नाम नीता है, जो कि अब इनके साथ मिलकर इनका व्यापार संभालती हैं. इस तरह परिवार में कुल तीन बच्चे हैं, एक लड़की है जिन का नाम ईशा अंबानी और दो लड़के हैं. जिन का नाम आकाश अंबानी और अंनत अंबानी। 


कैसे होई करियर की शुरुआत- सन बात है जब 1980 में जब इंदिरा गाँधी सरकार ने पी.एफ.वाई. (पॉलिएस्टर फिलामेंट यार्न) की शुरआत की तब रिलायंस ने भी लाइसेंस के लिए अपनी दावेदारी रखी थी और टाटा, बिरला और 43 नामी कम्पनिओं लाइसेंस पाने में कामयाबी हासिल की। पी.एफ.वाई. (पॉलिएस्टर फिलामेंट यार्न) कारखाने के निर्माण के पिता लिए धीरुभाई अम्बानी ने मुकेश को एम.बी.ए. की पढ़ाई को छोड़ कर आना पड़ा था मुकेश अपनी पढ़ाई छोड़ भारत आ गए और कारखाने के निर्माण में जुट गए। और ऐसी के साथ मुकेश ने जामनगर (गुजरात) में लोकल लेवल पर विश्व की सबसे बड़ी पेट्रोलियम रिफायनरी को लांच किया। सन 2010 में इस रिफायनरी की क्षमता 660,000 बैरल प्रति दिन थी यानी 3 करोड़ 30 लाख टन प्रति वर्ष। इस तरह दिन भी दिन कामजाबी को मुकाम हासिल करते गए.

इस बारे भी हम सोशल मीडिया और रिपोर्ट्स में देख रहे है के किस तरह रिलायंस इंडस्ट्रीज फिर से रिलायंस जिओके माध्यम से दूरसंचार के क्षेत्र में अपने कदम रख रही है। जैसे की जून 2014 में रिलायंस के ए.जी.एम. के दौरान मुकेश ने अगले 3 साल में 4G सेवाएं जारी रखने का एलान भी किया था. 

 

 

 

 

Wednesday, August 12, 2020

International Youth Day 2020: अंतर्राष्ट्रीय युवा दिवस कब, क्यों और कैसे होई शुरुआत इस दिन की-

Guru Search

 

International Youth Day 2020

अंतरराष्ट्रीय युवा दिवस ऐसा दिन होता है जिस दिन युवाओं के विकास के बारे में सोचने समझने को पहल दी जाती है. हर साल की तरह इस बार भी 12 अगस्त को सारी दुनियामें मनाया जाएगा अंतरराष्ट्रीय युवा दिवस। जैसे की  कोरोना के खतरा है  और इस को देखते हुए इस बार के कार्यक्रम ऑनलाइन माध्यम से किए जाएंगे। संयुक्त राष्ट्र द्वारा इस दिन पॉडकास्ट-शैली से चर्चाएं होंगी, इसमें विभिन्न देशों के युवा शामिल होंगे और सामाजिक, राजनीतिक और आर्थिक मुद्दों पर अपनी बात रखेंगे।

ये भी पढ़ें- Janmashtami 2020: देखिये कब, कहां और कैसे मनायी जाएगी

किस सोच को लेकर होइ इस दिन की पहल-  पहली बार साल 2000 में इसका आयोजन किया गया था और कहा जाता है के "आज के नौजवान कल का भविष्य है". इस लिया इस विषय पर बात होनी बुहत आवश्यक समजी जाती है. और आज की ज़रूरत भी है युवा पीढ़ी पर सरकार के ध्यान को केंद्रित करने की, पहला कर्तव्य सरकार का बनता है के युवा पीढ़ी की शिक्षा बहुत ही अनोखे और सरल ढंग की और तकनिकी वाली हो और मानो न मानो अगर देश की दिशा कोई बदल सकता है तो वो है सूजबूझ और समझदार नोजवानो का होना जिस से वो अपनी कड़ी मेहनत और आज की तकनीकी का सही ढंग से उपजोग करके देश को उचाईओं पर लेजा सकते है. इस तरह सरकार को चाहिए को युवाओं के लिया बहुत सारे रोजगार के अवसर ले कर ए और इन विषयों पर आज के दिन चर्चा करे.

 ये भी पढ़ें- कोरोना की Vaccine मिली, ब्रिटेन में Oxford ने किया अविष्कार

कब होई इस दिन की शुरुआत- 17 दिसंबर 1999 को सयुंक्त राष्ट्र महासभा में इस दिन जानी International Youth Day को 12 अगस्त को मनाने का फैसला हुआ. और पहली बार 2000 में इस दिन को मन्या गया था.



इस साल का थीम International Youth Day को ले कर- पिछले साल International Youth Day का थीम था ट्रांस्फोर्मिंग एजुकेशन’ (Transforming education) जिस का मतलब था युवाओं के लिए शिक्षा पर ज्यादा से ज्यादा ध्यान देना। और इस साल का थीम है- वैश्विक कार्य के लिए युवाओं की भागीदारी’ (Youth Engagement for Global Action) है. जानी के इंटरनेशनल सत्तर पर युवाओं की सोच को और मसलो पे सुनवाई पर पहल देना।

अंतरराष्ट्रीय युवा दिवस मुख्या उद्देश्- इस दिवस का मुख्य उद्देश्य है सामाजिक, आर्थिक और राजनीती के मुद्दों पर युवाओं की हिस्सा और उनकी भूमिका पर बहमूल्य चर्चा करना।  


 

Monday, August 10, 2020

Former President Pranab Mukherjee tweets he is in coronavirus positive

Guru Search

 

Pranab Mukherjee

भारत के पूर्व राष्‍ट्रपति प्रणब मुखर्जी आज कोरोना वायरस से संक्रमित पाये गए हैं। उन्‍होंने आज जानी 10 अगस्त  दोपहर एक ट्वीट में यह जानकारी दी। मुखर्जी जी ने ट्वीट में बताया कि वे एक अन्‍य बीमारी के चेकउप में अस्‍पताल गए थे, जहां उनकी रिपोर्ट कोविड-19 टेस्‍ट रिपोर्ट पॉजिटिव आई। पूर्व राष्‍ट्रपति ने ट्वीट में आगे लिखा है के उनके संपर्क में आए लोगों से खुद को सेल्‍फ आइसोलेट करने और अपना कोविड-19 टेस्‍ट कराने की अपील की है।

Pranab Mukherjee

ये भी पढ़े: कोरोना की Vaccine मिलीब्रिटेन में Oxford ने किया अविष्कार

अब तक की कई नामी हस्तियां कोरोना संक्रमित 

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान कोरोना पॉजिटिव पाएंगे थे। शिरोमणि अकाली दल के सांसद के मेम्बर नरेश गुजराल भी वायरस से संक्रमित पाए गए थे। भाजपा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया और पार्टी प्रवक्ता संबित पात्रा भी कोरोना से संक्रमित पाए गए थे. लेकिन अब उनकी हालत में काफी फर्क है। कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा भी इस तरह कोरोनावायरस से संक्रमित हैं।और तो और फ़िल्मी अभिनेता अमिताभ बचन भी कोरोनावायरस से संक्रमित हैं।बीते शुक्रवार को कांग्रेस सर्कार के नेता सिद्धारमैया के 40 वर्षीय बेटे यतींद्र सिद्धारमैया कोरोना पॉजिटिव पाए गए है । उत्‍तर प्रदेश की मंत्री कमला रानी भी बीते दिनों कोरोना के चलते निधन हो गया था।

ये भी पढ़े: Janmashtami 2020: देखिये कब, कहां और कैसे मनायी जाएगी-

अबतक चार केंद्रीय मंत्री हो चुके हैं कोरोना संक्रमित

इस महीने में ही केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के और तीन और केंद्रीय मंत्री भी कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। जिन का इलाज अभी चल रहा है. केंद्रीय कृषि राज्य मंत्री कैलाश चौधरी और मंत्री अर्जुन राम मेघवाल संसदीय मामलों की शनिवार को रिपोर्ट पॉजिटिव पायी गयी है. उनसे पहले पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान भी कोविड पॉजिटिव पाए जा चुके थे।

Wednesday, July 29, 2020

Rakhi Stories: इस तरह शुरू हुआ रक्षाबंधन का त्योहार

Guru Search

world tiger day

रक्षाबंदन एक हिन्दू और मुस्लिम त्योहार है, जो हर वर्ष पूर्णिमा के दिन मनाया जाता है. सावन में मनाये जाने के कारन ऐसे सावनी भी कहा जाता है. रक्षाबंदन भाई बहन का प्रसिद्ध त्यौहार है. रक्षा का मतलब सुरक्षा और बंदन का मतलब बाध्य है. इस दिन बहने भगवन से अपने भाईओं के लिए तरक्की एवं खुशलता मांगती है. वैसे भारी संख्या में  राखी भाई बहन का ही रिश्ता है परन्तु ब्राह्मणों, गुरुओं छोटी लड़कियों जैसे पुत्री द्वारा पिता को भी बाँधी जाती है.

Free Download Photos 

रक्षाबंदन का इतिहास(राजा बलि और लक्ष्मी मां ने शुरू की भाई-बहन की राखी)-

worldtigerday

जैसे की रक्षा बंदन का त्योंहार आज पुरे देश मैं धूम धाम से मनाया जाता है. राजा बलि और लक्ष्मी मां ने शुरू की भाई-बहन की राखी जैसे की हम सब को पता है के राजा बलि बुहत दानी राजा थे, और भगवन विष्णु जी के भगत थे. एक बार भगवन विष्णु जी ने यज्ञ किया और राजा बली की परीक्षा लेने के लिए तीन पग भूमि देने के लिए कहा. मगर भगवन विष्णु जी ने 2 पग में ही सारी भूमि और आकाश नाप लिया था. इस पर राजा बलि समज गए थे के इस में भगवन जी परीक्षा ले रहे है इस लिए तीसरे पग के लिए राजा बलि ने अपने सिर पर भगवन जी का पग रखवा लिया। और फर उन्होने भगवन विष्णु जी से बिनती करी के अब मेरा सब कुछ तो चला गया और भगवन विष्णु जी को सव्य पाताल में चल कर रहने की प्राथना करी. भगवान जी ने बात मान ली और पाताल में चल कर रहने लगे उदर लक्ष्मी देवी परेशान हो गयी फिर उन्होने लीला रची और गरीब औरत बन कर राजा बलि के पास गयी और राजा को राखी बांध दी तो इस पर राजा ने बोला के मेरे पास तो देने के लिए कुछ भी नहीं है. इस पर देवी लक्ष्मी अपने रूप में आ गईं और कहने लगी के आपके पास तो भगवान है बस मुझे वो चाहिए में उने लेने आयी हूँ. इस पर राजा को उनकी बात माननी पड़ी इस तरह भगवान चार महीने पाताल में भी रुकने का वरदान दे कर गए.

(ये भी पढ़ें:Guru Purnima 2020: How Celebrated In COVID19?)

द्रौपदी और कृष्ण का रक्षाबंधन- राखी से जुडी एक और बुहत भावुक कथा है जो के हमारे इतिहास से बुहत गहरी जुडी होइ है. ये कथा कुछ इस प्रकार है के युधिष्ठिर यज्ञ में शिशुपाल भी मजूद थे और उसी समय शिशुपाल ने भगवन कृष्ण जी का अपमान करा और कृष्ण जी ने अपने सुदर्शन चक्र से उसका वध कर दिया। वापिस आते सुदर्शन चक्र से भगवान कृष्ण छोटी उंगली कट गयी. और इस तरह काफी रक्त बहने लगा और जे सब देख क्र द्रोपती ने अपने साड़ी का पलो फाड़ कर कृष्ण जी की उंगली लपेट दी. इस के बाद जब कौरवों ने द्रोपती का चीरहरण करने की कोशिश करी तो भगवान ने वहां आकर द्रोपती के चीर लाज राखी इस तरह सुन ने में आता द्रोपती ने भगवान कृष्ण जी के पलो बांधा वह भी पूर्णिमा का दिन था.

 


Thursday, July 23, 2020

सुशांत सिंह राजपूत के टॉप स्टार बन ने तक का सफर आइये जानिए-

Guru Search

sushant singh rajput

सुशांत सिंह राजपूत का जन्म 21 जनवरी, 1986 पटना (बिहार) में हुआ. सुशांत सिंह राजपूत एक भारतीय अभिनेता थे. सुशांत ने अपना करियर शुरुआत छोटे परदे के टीवी सीरियल जो की स्टार प्लस पे आता था "किस देश में है मेरा दिल"(2008) से किया था. इस के बाद जी-टीवी के सीरियल पवित्र रिश्ता में मुख्य अभिनेता का भूमिका निभाई। इस सीरियल से सुशांत को दर्शोकों से काफी ज्यादा प्यार मिला था. सुशांत के पिता सरकारी अधिकारी है. सुशांत की 4 बहने है, जिस में से एक बहन मीतू सिंह राज्य स्तर की क्रिकेट खिलाड़ी हैं।

(ये भी पढ़ें: प्रभास (Prabhas) का अब तक का सफरजीवनीइतिहासपुरस्कार और आने वाली फ़िल्में)

सुशांत सिंह राजपूत पढ़ाई- सुशांत की शुरआती पढ़ाई सेंट कैरेंस हाई स्कूल, पटना से हुई थी. और आगे की पढ़ाई दिल्ही के हंसराज मॉडल स्कूल से हुई थी. इस के बाद दिल्ली कॉलेज से  मैकेनिल इंजीनियरिंग की पढ़ाई पूरी की थी.

सुशांत सिंह राजपूत का फ़िल्मी करियर-

सुशांत ने अपने फ़िल्मी करियर की शुरुआत 'काई पो चे' मूवी से करी थी. करियर की शुरुआत में सुशांत ने फिल्मफयेर अवार्ड्स में काफी बार बैकग्राउंड डांस करा था. इस तरह सुशांत ने रियलिटी शो जरा नच के दिखा 2 और झलक दिखला जा में भी लोकप्रियता हासिल करी. काई पो चे मूवी के बाद और भी बुहत सारी मूवीज करी, जैसे की शुद्ध देसी रोमांस, एमएस धोनी, पीके और केदारनाथ, छिछोरे। 2013 में आई एमएस धोनी में सुशांत ने  महेंद्र सिंह धोनी की मुख्य भूमिका निभाई जिस से सुशांत सिंह राजपूत को बुहत सहारना मिली। फ़िल्मी स्टार के इलावा सुशांत Sushant4Education सगठन भी चला रहे थे. और कुछ प्रौद्योगिकी कंपनियों के मालक भी थे.

sushant singh rajput

व्यक्तिगत जीवन- जैसे की 6 साल तक सुशांत ने पवित्रा रिश्ता में भूमिका निभाई है, तो वहां अंकिता लोखंडे के साथ उनका 6 साल तक रिश्ता रहा है. और 2016 में दोनों अलग हो गये.

(ये भी पढ़ें: Kangana Ranaut का अब तक का सफर, जीवनी, इतिहास, पुरस्कार और आने वाली फ़िल्में)

मृत्यु:-बॉलीवुड मशहूर अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत का 14 जून 2020 में फांसी लेने से  निधन हो गया था.कुछ रिपोर्ट्स और पुलिस रिपोर्ट्स के अनुसार उन की मौत को आत्महतया बतया जा रहा है।  पर अभी सुशांत की मौत के लिए सीबीआई जाँच अपील की जा रही है. सुनने मैं आया है के सुशांत पिछले महीनो से डिप्रेशन मैं चल रहे थे इस के उपलक्ष में वो इलाज के तोर पे अपना ट्रीटमेंट भी ले रहे थे.  फिल्म इंडस्ट्री और उनके फैंस  के लिए यह खबर किसी सदमे से कम नहीं थी। बता दें, सुशांत सिंह राजपूत अभी  महज 34 वर्ष के थे।

DilBechara is upcoming Movie Of Sushant Singh Rajput